एक तरफ विद्यालय में गुणवत्ता की कमी वही दूसरी तरफ शिक्षकों का वनभोज

Views




राम भरोशे शिक्षा गुणवत्ता  जिला शिक्षा अधिकारी भारद्वाज का कहना है जांच कर उचित कार्रवाई किया जाएगा 

कोरबा - कोरबा जिले के संकुल फुलसरी के शिक्षक गण  23 जनवरी को स्कूल दिवस के दिन पिकनिक मना रहे हैं इस प्रकार की कार्यशैली से स्कूली बच्चों का शिक्षा दीक्षा कैसे होगी,शासन ने शिक्षा गुणवत्ता पर काम करने हेतु निर्देशित किया है।वही दूसरी ओर शिक्षकों का वनभोज कार्यक्रम आखिर  स्कूल समय में खत्म कब होगी, शिक्षा गुणवत्ता में सुधार कब होगा,कोरबा विकासखण्ड के अंतर्गत फुलसरी संकुल अंर्तगत आने वाले स्कूलों की शिक्षको की बात कर रहे हैं।कोरबा आकांछी जिला भी है एवं कोरबा विकासखण्ड में वनांचल क्षेत्र होने के कारण शिक्षको की कमी भी है।लेकिन ये शिक्षक स्कूल को छोड़  अपने शौक पूरा करने के लिए पिकनिक मना रहे हैं।आखिर विद्यालय समय पर पिकनिक क्यों ।उन गरीब बच्चों का क्या होगा जो इन शिक्षकों पर विस्वास करते हैं।

शायद ये शिक्षा विभाग में बैठे अधिकारियों की श्रेय का कारण है जो स्कूल में पढ़ाने का काम छोड़ पिकनिक मना रहे हैं।

संकुल प्राचार्य फुलसरी अनिमा प्रसाद की अगुवाई में शिक्षकगण पिकनिक मना रहे हैं! यदि पिकनिक मनाना था तो छुट्टी के दिन भी मना सकते थे लेकिन  शिक्षा को ध्यान न देते हुए पिकनिक मना रहे हैं क्या बच्चों की भविष्य से खिलवाड़ नहीं है क्या शिक्षा विभाग से परमिशन लिया गया है! इस प्रकार की पिकनिक के लिए यह सोचने वाली बात होगी!

0/Post a Comment/Comments