जुलाई में दुर्लभ संयोग, एक माह में पड़ रही हैं 3 एकादशी, देवता-गंधर्व और सूर्य की पूजा का मिलेगा फल

Views

 


हिन्दू धर्म में एकादशी का बहुत महत्व है. शास्त्रों के अनुसार एकादशी ऐसा व्रत है जिसके कारण व्यक्ति को नरक का मुंह नहीं देखना पड़ता. इससे पितरों की आत्मा को शांति मिलती है. वैसे तो हर महीने दो एकादशी आती हैं लेकिन सालों बाद जुलाई 2024 में ऐसा दुर्लभ संयोग बन रहा है जिसमें एक माह में 3 एकादशी पड़ रही हैं.

योगिनी एकादशी-आषाढ़ माह के कृष्ण पक्ष की योगिनी एकादशी 2 जुलाई 2024 को पड़ रही है. मान्यता है इस व्रत के प्रताप से व्यक्ति स्वर्ग को मृत्यु के बाद स्वर्ग मिलता है. शास्त्रों में मान्यता है योगिनी एकादशी का व्रत करने से 88 हजार ब्राह्मणों को भोजन कराने के बराबर पुण्य फल की प्राप्ति होती है. व्यक्ति स्वर्ग को प्राप्त होता है और अपने जीवन में समस्त सुख भोगता है.

देवशयनी एकादशी – आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की देवशयनी एकादशी 17 जुलाई 2024 को है. इस दिन से 4 महीने तक देव सो जाते हैं. देवशयनी एकादशी के दिन से भगवान विष्णु 4 माह के लिए योग निद्रा में चले जाते हैं और सृष्टि का कार्यभार भगवान शिव को सौंप देते हैं. मान्यता है देवशयनी एकादशी का व्रत करने से दुर्घटनाओं के योग टल जाते हैं. परिवार में सुख-समृद्धि आती है.

कामिका एकादशी – सावन माह के कृष्ण पक्ष की कामिका एकादशी 31 जुलाई 2024 को है. मान्यता है इस व्रत से वाजपेय यज्ञ के फल की प्राप्ति होती है. कामिका एकादशी की पूजा से सभी देवता, गंधर्व और सूर्य की पूजा का फल मिल जाता है. व्यक्ति के जीवन में सभी सुखों की प्राप्ति होती है और सभी कष्टों का अंत होता है.

0/Post a Comment/Comments

Ads 1

Ads1

Ads 2

Ads2