नगरीय निकाय चुनाव से पहले वार्ड परिसीमन करने शासन ने दिए कलेक्टर को निर्देश

Views

 


० गरियाबंद नगर पालिका सहित छुरा फिंगेश्वर राजिम और नगर पंचायत कोपरा में होगा वार्ड परिसीमन

गरियाबंद। 2023 के आखिरी महीने में विधानसभा और फिर साल 2024 की शुरुआत में ही लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद अब छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। शासन के निर्देश के मुताबिक जिले के नगर पालिका गरियाबंद नगर पंचायत छुरा नगर पंचायत राजिम नगर फिंगेश्वर और वर्ष 2024 में अस्तित्व में आए नगर पंचायत कोपरा में नगरीय निकाय चुनाव इसी साल के नवंबर दिसंबर माह में होना संभावित है। इसके लिए वार्ड परिसीमन करने शासन ने निर्देश जारी कर दिए है।
इसी साल अस्तित्व में आए नगर पंचायत कोपरा में प्रारंभिक अवस्था में परिसीमन किया जाना है।

चुनाव से पहले प्रदेश के सभी शहरों के वार्डों का जनसंख्या के हिसाब से परिसीमन किया जाएगा। ज्यादा आबादी वाले वार्डों के वोटर्स का पास की कम आबादी वाले वार्डों में समायोजन होगा। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने प्रदेश के सभी कलेक्टर्स को वार्डों के परिसीमन करने का आदेश जारी कर दिया है। इस आदेश में वार्डों के परिसीमन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि, प्रत्येक वार्डो की जनसंख्या में हुई वृद्धि को दृष्टिगत रखते हुए नये सिरे से वार्डो का परिसीमन किया जाएगा। परिसीमन के बाद वार्डों के आरक्षण की प्रक्रिया शुरू होगी। विभाग ने कलेक्टर्स को नगरीय निकायों के वार्डो के परिसीमन की कार्यवाही यथाशीघ्र सम्पन्न करने को कहा है, ताकि नगरीय निकाय चुनावों की समय-सीमा से पहले मतदाता सूची तैयार किया जा सके।

कलेक्‍टरों को जारी पत्र में नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव ने लिखा है कि राज्य के नगरीय निकायों का आम निर्वाचन नवम्बर / दिसम्बर 2024 में होना है। छत्तीसगढ़ नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 10 की उपधारा (3) तथा छत्तीसगढ़ नगर पालिका अधिनियम 1961 की धारा 29 की उपधारा (3) अनुसार वार्डो की रचना इस प्रकार से की जाएगी कि प्रत्येक वार्ड की जनसंख्या पूरे निकाय क्षेत्र में यथासाध्य एक जैसी होगी तथा वार्ड में सम्मिलित क्षेत्र संहृत क्षेत्र हो। जनगणना निदेशालय द्वारा जनगणना 2011 के जनसंख्या संबंधी आंकड़ो का प्रकाशन किया जा चुका है, प्रत्येक वार्डो की जनसंख्या में हुई वृद्धि को दृष्टिगत रखते हुए नये सिरे से वार्डो का परिसीमन किया जाना आवश्यक हो गया है।

विधनसभा और लोकसभा चुनाव के बाद नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई है. चुनाव से पहले प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में वार्डों का आबादी के हिसाब से परिसीमन किया जाएगा। ज्यादा आबादी वाले वार्डों के वोटर्स का नजदीक के कम आबादी वाले वार्डों में समायोजन किया जाएगा। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग मंत्रालय ने प्रदेश के सभी कलेक्टरों के नाम वार्डों के परिसीमन करने का आदेश जारी किया है. इस आदेश में वार्डों के परिसीमन के लिए जरुरी दिशा निर्देश दिए गए है.

0/Post a Comment/Comments

Ads 1

Ads1

Ads 2

Ads2