पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में अपनी मां को किया याद

Views


 तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी आज पहली बार मन की बात कर रहे हैं. करीब चार महीने बाद वो इस कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित कर रहे हैं. यह इस कार्यक्रम का 111वां एपिसोड है.

  • पीएम मोदी ने टोक्यो ओलंपिक के बारे में बात की. उन्होंने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में हमारे खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने हर भारतीय का दिल जीत लिया था. टोक्यो ओलंपिक के बाद से ही हमारे खिलाड़ी पेरिस ओलंपिक की तैयारियों में जी-जान से जुटे हुए थे. सभी खिलाड़ियों को मिला दें तो इन सबने करीब 900 अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया है.
  • ‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने एक खास तरह के छातों के बारे में बात की. उन्होंने कहा कि ये छाते हमारे केरला में तैयार होते हैं. उन्होंने कहा कि वैसे तो केरला की संस्कृति में छातों का विशेष महत्व है. छाते वहां कई परंपराओं और विधि-विधान का अहम हिस्सा होते हैं. लेकिन मैं जिस छाते की बात कर रहा हूं, वो हैं ‘कार्थुम्बी छाते’ और इन्हें केरला के अट्टापडी में तैयार किया जाता है.
  • पीएम मोदी ने कहा कि आज 30 जून का ये दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है. इस दिन को हमारे आदिवासी भाई-बहन ‘हूल दिवस’ के रूप में मनाते हैं. यह दिन वीर सिद्धो-कान्हू के अदम्य साहस से जुड़ा है, जिन्होंने विदेशी शासकों के अत्याचार का पुरजोर विरोध किया था. वीर सिद्धो-कान्हू ने हजारों संथाली साथियों को एकजुट करके अंग्रेजों का जी-जान से मुकाबला किया था. तब झारखंड के संथाल परगना में हमारे आदिवासी भाई-बहनों ने विदेशी शासकों के खिलाफ हथियार उठा लिया था.
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि हर कोई अपनी मां के लिए पेड़ लगा रहा है, चाहे वो अमीर हो या गरीब, चाहे वो कामकाजी महिला हो या गृहिणी. इस अभियान ने सबको मां के प्रति अपना स्नेह जताने का समान अवसर दिया है.
  • पीएम मोदी ने कहा कि मैंने सभी देशवासियों से, दुनिया के सभी देशों के लोगों से ये अपील की है कि अपनी मां के साथ मिलकर या उनके नाम पर एक पेड़ जरूर लगाएं. मुझे ये देखकर बहुत खुशी हो रही है कि माँ की स्मृति में या उनके सम्मान में पेड़ लगाने का अभियान तेजी से आगे बढ़ रहा है.
  • पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में अपनी मां को याद किया. पीएम मोदी ने कहा कि एक पेड़ अपनी मां के नाम जरूर लगाएं. मैंने भी अपनी मां के नाम एक पेड़ लगाया है. हम सबके जीवन में मां का दर्जा सबसे ऊंचा है. धरती मां का भी ख्याल रखें. वो भी हमारी मां के समान हमारा ख्याल रखती है.
  • पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया का सबसे अनमोल रिश्ता मां से होता है. हम सबके जीवन में मां का दर्जा सबसे ऊंचा होता है. मां हर दुख सहकर भी अपने बच्चे का पालन-पोषण करती है. हर मां अपने बच्चे पर हर स्नेह लुटाती है. जन्मदात्री मां का ये प्यार हम सब पर एक कर्ज की तरह होता है जिसे कोई चुका नहीं सकता.
  • पीएम मोदी ने कहा कि मैं आज देशवासियों को धन्यवाद करता हूं कि उन्होंने हमारे संविधान और देश की लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं पर अपना अटूट विश्वास दोहराया है. 2024 का चुनाव, दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव था. दुनिया के किसी भी देश में इतना बड़ा चुनाव कभी नहीं हुआ. 65 करोड़ लोगों ने इस चुनाव में वोट डाले.https://x.com/ANI/status/1807288141692203154

0/Post a Comment/Comments

Ads 1

Ads1

Ads 2

Ads2