मध्यप्रदेश के नरसिंहगढ़ में आयोजित होगी बीएसपीएस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की एक दिवसीय बैठक व कार्यशाला : डॉ. इन्दु बंसल

Views



बीएसपीएस की मध्यप्रदेश इकाई JUMP (जर्नलिस्ट्स यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश) को मिली आयोजन की जिम्मेदारी 

नई दिल्ली/भोपाल,29 जून 2024 (ब्यूरो) बीएसपीएस के राष्ट्रीय नेतृत्व के साथ पूर्वानुमति उपरांत एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक ओर कार्यशाला का आयोजन जुलाई माह की 27 तारीख को मध्यप्रदेश के "मालवा का मिनी कश्मीर" कहे जाने वाले नरसिंहगढ़ में किया जाना तय हुआ है। उक्त जानकारी देते हुए बीएसपीएस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ इन्दु बंसल ने बताया कि कार्यक्रम के आयोजक व सूत्रधार जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश के प्रदेश महासचिव और बीएसपीएस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य डॉ.अरुण सक्सेना व बीएसपीएस के राष्ट्रीय सचिव व जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ नवीन आनंद जोशी रहेंगे।

राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ बंसल ने कार्यक्रम के विषय मे जानकारी देते हुए बताया कि कार्यक्रम 27 जुलाई 2024, दिन शनिवार को प्रातः10 बजे से प्रारम्भ होगा। जिसमें प्रथम चरण में बीएसपीएस की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक नरसिंहगढ़ के स्थानीय मार्केटिंग सोसायटी के मीटिंग हॉल, बस स्टैंड के सामने होगी।

द्वितीय सत्र में संगठन की कार्यशाला स्थानीय बड़े/छोटे महादेव (पहाड़ी स्थित) प्रांगण में रखी गई है।

कार्यक्रम में दोपहर के समय पत्रकारों के लिये सहभोज की व्यवस्था भी की गई है। राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक के उपरांत जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश की प्रादेशिक कार्यशाला रखी जाना प्रस्तावित हुआ है।         डॉ बंसल ने बताया की कार्यक्रम में स्थानीय विधायक मोहन शर्मा व नरसिंहगढ़ मार्किटिंग सोसायटी के चेयरमैन सुरेश शर्मा प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे।


 नरसिंहगढ़ एक नजर में: 

भोपाल से 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित नरसिंहगढ़ राज्य को राजगढ़ के तत्कालीन शासक रावत मोहन सिंहजी के छोटे भाई पारस रामजी ने 1681 ई. में राजगढ़ राज्य से अलग कर बनाया था।यह शहर लगभग 300 साल पुराना है जिसकी स्थापना 1681 में दीवान परसराम ने की थी। शहर में खूबसूरत झील जिसमें पुराना किला और महल झलकता है, आज भी संस्थापक के नाम पर मौजूद है।माघ माह मे हर साल यहां एक मेला आयोजित किया जाता है और यह प्रसिद्ध मंदिर 16-17वी शताब्दी में राजा संग्राम सिंह (श्याम सिंह) की स्मृति मे पत्नी भाग्यवती द्वारा बनाया गया था । यहां राजा हाजीवली की एक मुगल सैनिक के साथ हुई मुठभेड़ में मौत हो गई थी । यह मंदिर राज्य सरकार द्वारा संरक्षित है। 

डॉ बंसल ने बताया कि कार्यक्रम में आगंतुक अतिथियों द्वारा "भारतीय सहकारिता के पुनर्विकास में पत्रकारिता का योगदान" पर व्याख्यान भी दिया जाएगा।

राष्ट्रीय कार्यसमिति द्वारा निर्देशन

डॉ बंसल ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक पांडे व राष्ट्रीय कार्यसमिति के निर्देशानुसार आयोजित बैठक में केवल राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य ही पधारें। 

साथ ही आने वाले सभी सदस्य अपने आवागमन की पूर्व सूचना कार्यक्रम के आयोजक व सूत्रधार अरुण सक्सेना के मोबाइल नंबर 9424429222/9039829222 पर उपलब्ध करवाएं, ताकि समुचित व्यवस्था हो सके।


0/Post a Comment/Comments

Ads 1

Ads1

Ads 2

Ads2