श्रद्धा महिला मंडल, एसईसीएल द्वारा दो दिवसीय आनंद मेला का आयोजन सम्पन्न

Views






 मनीष पाल बिलासपुर 


अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा ने कहा जारी रहेगा समाज सेवा का यह अभियान

श्रद्धा महिला मण्डल द्वारा एसईसीएल वसंत विहार स्थित खेल मैदान में आयोजित दो दिवसीय आनंद मेला का आज सांस्कृतिक कार्यक्रम पश्चात समापन किया गया। मेले के दूसरे दिन आज के कार्यक्रम में महिला स्वरोजगार एवं आत्मनिर्भरता तथा महिला सशक्तिकरण की मुहिम के तहत आर्थिक रूप से अक्षम महिलाओं सहित 20 लाभार्थियों को ई-रिक्शा एवं हाथ ठेला प्रदान किए गए। उक्त ई-रिक्शा एवं हाथ ठेला एसईसीएल श्रद्धा महिला मण्डल अध्यक्षा एवं एसईसीएल परिवार की प्रथम महिला श्रीमती पूनम मिश्रा के करकमलों से प्रदान किए गए।
लाभार्थियों में 10 महिलाओं को ई-रिक्शा प्रदान किए गए एवं 4 महिलाओं एवं 6 पुरुषों को हाथ ठेला प्रदान किए गए। 

आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों से आने वाले लाभार्थियों विशेषकर महिलाओं को ई-रिक्शा एवं हाथ ठेला मिलने से उन्हें स्वरोजगार का जरिया मिलेगा जिससे वे आत्मनिर्भर बनकर अपने परिवार का भरण-पोषण कर पाएंगे।
ई-रिक्शा एवं हाथ ठेले पाकर महिलाएं बेहद खुश नज़र आईं एवं उन्होने कहा कि ई-रिक्शा एवं हाथ ठेला प्रदान करने के लिए हम श्रद्धा महिला मंडल अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा के बहुत-बहुत आभारी हैं एवं इससे हमें जीवन-यापन करने में बहुत मदद मिलेगी।

श्रद्धा महिला मण्डल द्वारा आयोजित दो दिवसीय आनंद मेले में लोगों का हूजूम देखा गया। इस अवसर पर श्रद्धा महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि श्रद्धा महिला मण्डल, एसईसीएल बिलासपुर एवम क्षेत्रीय समितियों के समस्त पदाधिकारियों एवं सदस्याओं के अथक प्रयासों से इस मेले में हमारे 13 कोयला क्षेत्रों में कार्यरत महिला समितियों की बहनों ने स्टाल लगाया। 

आनंद मेले में श्रद्धा महिला मंडल एसईसीएल बिलासपुर सहित एसईसीएल के विभिन्न संचालन क्षेत्रों की महिला समितियों द्वारा लगाए गए भारत के विभिन्न राज्यों की थीम पर आधारित स्टालों ने एक मिनी भारत की छवि प्रस्तुत की। 

मुख्यालय के श्रद्धा महिला मंडल का स्टाल आकर्षण का केन्द्र बना जिसमें लगाए गए चेन्नई एक्सप्रेस सेल्फी पाइंट पर सेल्फी लेने लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। साथ ही स्टाल में छत्तीसगढ़ी ग्राम अंचल को दर्शाता हुआ एक मणी जैसी संरचना बनाई गई है। इसी तरह बैलगाड़ी जैसी संरचना भी निर्मित है, जिसे लोगों द्वारा काफी पसंद किया गया। 

वहीं एसईसीएल के विभिन्न संचालन क्षेत्रों की महिला समितियों के स्टालों में भी लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। मेले में गेवरा क्षेत्र द्वारा हरियाणा राज्य की थीम पर स्टाल लगाया गया जिसमें लोगों ने हरियाणा राज्य के विभिन्न व्यंजनों का मज़ा लिया। इसी तरह दीपका क्षेत्र द्वारा पश्चिम बंगाल एवं कुसमुंडा क्षेत्र द्वारा बिहार राज्य की थीम पर स्टाल लगाया गया जिसमें लोगों ने इन राज्यों के स्थानीय व्यंजनों का लुत्फ लिया। भटगांव क्षेत्र द्वारा गोवा राज्य की थीम पर स्टाल बनाया गया जिसमें एक क्रूज़ का प्रदर्शन किया गया जिसने लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचा। रायगढ़ क्षेत्र द्वारा झारखंड राज्य की थीम पर लगाए गए स्टाल पर भी लोगों का हुजूम देखा गया। 

मेले में मुख्यालय एवं क्षेत्रीय महिला समितियों के अलावा विभिन्न उद्यमियों विशेषकर महिला उद्यमियों द्वारा 80 से भी अधिक स्टाल लगाए गए हैं। छत्तीसगढ़ की स्थानीय कला, संस्कृति, हैंडीक्राफ्ट आदि से जुड़े उत्पादों को इन स्टालों में लगाया गया जिसकी खरीदारी मेला घूमने आए लोगों द्वारा की गई। 

श्रद्धा महिला मंण्डल द्वारा आयोजित इस आनंद मेले में एसईसीएल एम्प्लाई सपरिवार एवं आसपास व शहर के लोगों ने खूब लुफ्त उठाया। आनंद मेले में लोगों ने जमकर विभिन्न व्यंजनों का स्वाद चखा एवं अलग-अलग क्षेत्रों के प्रसिद्ध परिधानों व अन्य सामानों की खरीददारी की। व्यंजनों के स्टॉल के आगे अधिक भीड़ देखी गयी। व्यंजनों में लोगों ने छत्तीसगढी़, राजस्थानी, उत्तरप्रदेश, पंजाबी, गुजराती, बंगाली आदि व्यंजनों का भरपूर स्वाद चखा। इसके साथ ही लोगों ने लघु उद्यमियों द्वारा लगाए गए स्टालों से अपनी आवश्यकता की सामग्रियाँ क्रय की।  

इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रीय महिला समितियों द्वारा किए गए कल्याणकारी कार्यों के लिए उन्हें पुरस्कृत किया गया।  

इस अवसर पर एसईसीएल निदेशक मण्डल से श्रद्धा महिला मण्डल उपाध्यक्षा श्रीमती रीतांजली पाल, सहित सदस्यागण श्रीमती राजी श्रीनिवासन, श्रीमती संगीता कापरी, श्रीमती सुजाता खमारी उपास्थित रहीं।

0/Post a Comment/Comments